Love Shayari – Kab se kehne ki himmat juta raha hun

Love Shayari

बिना मोहबत्त के जीवन जीना बहुत ही मुश्किल होता है, हर किसी ने अपनी जिंदगी में मोहबत का अहसास किया होता है !
किसी हो मोहबत्त मिल जाती है तो किसी को नहीं मिलती मिलता है तो बस जिंदगी भर का अहसास !

ये शायरी उन लोगो के लिए है हो अपने प्यार को बया करना चाहते है!

Love is a form of God and the way of expression could vary from person to person, here we are representing the very famous Shayari “kab se kehne ki himmat juta raha hun – Love Shayari in Hindi. . .” 


Kab se keh ne ki himmat juta raha hu,
Ke tumse mohhabat hai kitni,

Jaane aaj aisa kya hua,
Ke dil ne kaha keh hi daalu,

Jab kitab ke panno ki safedi
tumhare chehre par chamkti hai,
Dil ruk sa jata hai,

Jab hasi ki ek thandi lehar
mere kaano tak aati hai,
Waqt tham sa jaata hai,

Jaane aaj aisa kya huaa,
dil ne kaha keh hi daalu,

Kitni mohhabat hai tumse….♥


Listen to this Shayari

(kab se kehne ki himmat juta raha hun – love shayari)

Also read

kab se kehne ki himmat juta raha hun – Love Shayari in hindi

कब से कहने की हिम्मत जुटा रहा हूं !
कि तुमसे मोहब्बत है कितनी ..

जाने आज ऐसा क्या हुआ
कि दिल ने कहा कह ही डालू. . .

जब किताब के पन्नों की सफेदी
तुम्हारे चेहरे पर चमकती है
तो दिल रुक सा जाता है
जब हंसी की एक ठंडी लहर
मेरे कानों तक आती है
वक्त थम सा जाता है . .

जाने आज ऐसा क्या हुआ
दिल ने कहा कह ही डालू
कितनी मोहब्बत है तुमसे. . .

=====================Thanks for visit==============================

If you like this post – Love Shayari in Hindi,

please leave your valuable comments and suggestion in the below mention sections and like and visit our “Facebook page” https://www.facebook.com/shayaribazaar for other best Hindi Shayari and latest posts.

Related Posts

About The Author

Add Comment